What Is DM Full Form In Government In Hindi क्या होता है?

Hello, friends क्या आप भी DM full Form In Government In Hindi में क्या होता है जानना चाहते है या DM कौन होता है? DM कैसे बने पूरी जानकारी देने वाले है। 
आज हम आपको DM के बारे हर बात बताने जा रहे है, अगर आप भी DM बनना चाहते है या आप DM पद के लिये तैयारी कर रहे है तो बिल्कुल सही जगह आये है।
आज मैं आपको DM ka full form, और DM कैसे बन सकते हैं और DM कि Salary कितने ही जानकारी देने वाले है।

What Is DM Full Form In Government In Hindi क्या होता है?
What Is DM Full Form In Government In Hindi क्या होता है?

What is DM Full Form In Government In Hindi?

DM Full Form In GovernmentDistrict magistrate होता है, और इसे हिंदी भाषा में  “जिला मजिस्ट्रेट “ बोलते है। ये एक भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) अधिकारी के नाम से भी  जाना जाता है, क्योंकि यह भारत में एक जिले के सामान प्रशासन के सबसे वरिष्ठ कार्यकारी मजिस्ट्रेट और प्रमुख  होता हैं।

DM बनने के क्या क्या फायदे होते हैं?

  • आज के time एक DM को सरकार कि तरफ से बहुत सारे फायदे मिलते हैं, इसके अलावा समाज में आपको बहुत सम्मान भी मिलता है। 
  • जब भी आप DM बन जाते हैं तो आपको हर महीने में 78,000 हजार रुपए से ज्यादा कि salary दि जाती है।
  • एक DM को सरकार कि तरफ से कई सारी सुविधाएं दि जाती है।

Read also = PSC Full Form In Hindi

DM कि Responsibilities क्या क्या होती है?

दोस्तों अगर हम DM के कार्य कि बात कि जाये तो DM के बहुत सारे विभिन्न प्रकार के होते हैैं। जैसे कि निचे बताया गया है।

  • DM प्रमुख रूप से कानून व्यवस्था को बनाये रखने का कार्य करता है।
  • वार्षिक अपराध की सरकार को Report देने का काम करता है।
  • पुलिस और जेलों का निरीक्षण करने का काम करता है।
  • सभी कार्यों की मंडल आयुक्त को जानकारी प्रदान करता है।
  • जब मंडल आयुक्त उपस्थित नहीं होते है, तो जिला विकास प्राधिकरण के पद पर अध्यक्ष के रूप में कार्य  करने की जिम्मेदारी निभाते है।
  • एक DM का कार्य करने वाले मजिस्ट्रेटों का निरीक्षण भी करते है।

How to become a DM Officer || आप DM आफिसर कैसे बन सकते हैं?

दोस्तों अब बात आती है कि DM हम कैसे बन सकते हैं, DM बनने के लिए योग्यता होना चाहिए, जैसे कि आयु सीमा क्या होना चाहिए, ये सभी जानकारी आपको निचे दिए गई है।

DM बनने के लिए eligibility Criteria क्या क्या होता है?

दोस्तों DM पद कोई छोटा मोटा पद नहीं होता है, ये काफी बड़ा पद होता है इसलिए इसके लिए कुछ eligibility Criteria होते हैं।

Education Qualification क्या होती है DM बनने के लिए

DM बनने के लिए उम्मीदवार का किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन complete होना चाहिए।
आप लोग Graduation Pass होने के बाद ही आप DM बनने की तैयारी कर सकते है।

Age Limit क्या होती है DM बनने के लिए

DM बनने के लिए candidate की न्यूतम आयु   21 वर्ष से 30 वर्ष तक आयु होनी चाहिए।
OBC वर्ग के अभ्यर्थियों की न्यूनतम आयु 21 वर्ष से 33 वर्ष  के बीच होनी आवश्यक है।
SC/ST वर्ग  के अभ्यर्थियों की न्यूनतम आयु 21 वर्ष से 35 वर्ष  के बीच होनी अनिवार्य है।

DM बनने कि selection process

DM बनने के लिए candidate को UPSC में होने वाली CSE( Civil Service Exam) पास करना होती है। इसके बाद आपका IAS के लिए चयन किया जाता है। और फिर उसके बाद आप IAS अधिकारी बनते है। यही IAS अधिकारी ही promotion के बाद DM बन जाते है।
IAS की परीक्षा तीन चरणों के माध्यम से होती है जिसके प्रत्येक चरण को आपको पास करना होता है तभी आप IAS यानि की DM बन सकते है।

डी एम परीक्षा का पैटर्न (DM Exam Pattern)

जिला न्यायाधीश बनने के लिए आपको UPSC पास करना होती है। इसमें आपको CSE की परीक्षा देना होती है। जो 3 चरणों में होती है, जिसके बारे में आपको नीचे बताया गया है।

  1. Preliminary Exam ( प्रारम्भिक परीक्षा )
  2. Main Exam ( मुख्य परीक्षा ) 
  3. Interview ( साक्षात्कार )

1. Preliminary Exam (प्रारम्भिक परीक्षा)

आपको CSE में भाग लेने के लिए, आपको Preliminary Exam देना होता है, जिसमें दो exam होते हैं।
पहले पेपर में आपसे 100 प्रश्न पूछे जाते हैं और दूसरे पेपर में 80 प्रश्न पूछे जाते हैं।
ये दोनों प्रश्नपत्र 200-200 नंबर के होते हैं। यदि आप प्रारंभिक परीक्षा पास करते हैं, तो आपको मुख्य परीक्षा के लिए भेजा जाता है।

2. Main Exam (मुख्य परीक्षा)

Main exam में आपको 9 papers देने होते है। जो कि लगभग 1750 नंबर्स के होते है।

लेकन आपकी merit List 7 पेपर्स के आधार पर ही बनायी जाती है बाकी 2 पेपर्स में आपको बस पास होना ज़रूरी होता है।

अगर आप सफलतापूर्वक mains exam में पास हो जाते है तभी आपको अगले चरण यानि की साक्षात्कार (Interview) के लिये बुलाया जाता है।

3. Interview (साक्षात्कार)

साक्षात्कार (Interview) में सिर्फ वही अभियार्थी सामिल होंगे जो मुख्य परीक्षा पास किया होता यह काफी महत्वपूर्ण और आखिरी चरण होता है जिसके बाद आप एक IAS अधिकारी बन जाते है।  

Interview मैं आपसे अलग-अलग तरह के प्रश्न पूछे जाते है जिनका आपको उत्तर देना होता है और interview मैं भी अगर आप पास हो जाते है 

तो फिर आपको एक IAS अधिकारी बना दिया जाता है IAS अधिकारी बनने के 2 से 3 Promotion के बाद आपको DM बन जाते हैै, आप किस राज्य मैं DM बनना चाहते है इसका चयन भी आप खुद ही कर सकते है।

DM कि Salary कितनी होती है?

दोस्तों DM एक government officer होता हैं। इसलिए प्रशासन के सर्वोच्च पद पर कार्य करने के लिए इन्हें बेहतर सैलरी दी जाती है। एक जिले के एक डीएम को प्रतिमाह लगभग ₹75000 से 1.5 लाख रुपए सैलरी दी जाती है। 

DM बनने कि तैयारी कैसे करे?

  • आपको अपनी General Knowledge यानी कि (GK) बढ़ाना होगा। इसके लिए Books पढ़े। और Daily News Paper पढ़े।
  • आपको इसके लिए कानूनी जानकारी होना बहुत ज़रुरी होता है। तो फिर आप Law की Books भी पढ़ सकते हैं।
  • आप लोग पिछले साल के last year के question paper का भी सहारा ले सकते है।

Read also = NABARD Full Form In Hindi
FAQS For DM Full Form In Government In Hindi
Q1. Who is the youngest DM in India?Ans. The Ansar Shaikh The Youngest IAS Officer Of India At The Age Of 21 years.
Q2. What is the salary of a DM in India?Ans. एक DM आफिसर कि salary India में 78,000 हजार रुपए के करीब रेहती है।
Q3. क्या DM और collector same होते हैं?Ans. DM कानून और व्यवस्था के लिए जिम्मेदार है और पुलिस और अभियोजन एजेंसी का प्रमुख है। Collector राजस्व प्रशासन का मुख्य अधिकारी है और भूमि राजस्व के संग्रह के लिए जिम्मेदार है, और जिले में उच्चतम राजस्व न्यायिक प्राधिकरण भी है।

Conclusionनमस्कार दोस्तों, मुझे उम्मीद है की आपको जानकरी मिल चुकी होगी की DM कौन होता है DM Full Form in government in Hindi, Exam, Salary, DM कैसे बने? 
DM पर दी गयी जानकारी आपको कैसी लगी आप हमे comment द्वारा बता सकते है इसके अलावा अगर आपका कोई सवाल या फिर सुझाव हो तो वो भी हमे जरूर बताया है।

Leave a Comment